TOP

खतरे की ओर बढ़ रहा बैंकिंग सिस्टम!

  • जयपुर। देश के बैंकिंग सिस्टम में बढ़ते एनपीए, विलफुल डिफॉल्टर्स, संपत्तियों की नीलामी, आदि खबरें प्रतिदिन टीवी व अखबारों में देखने-पढऩे को मिल रही हैं जो इस बात का संकेत है कि बैंकिंग सिस्टम खतरे की ओर आगे बढ़ रहा है। भारतीय बैंकिंग सिस्टम पर दबाव (Stress) का स्तर विश्व में सर्वाधिक है। रूस को छोड़ दें तो भारत का एनपीए अनुपात सभी इमर्जिंग...
    और पढ़ें...


Load More...
विचार सागर
  • .

     ''मानव चेतना का उद्भव ही अध्यात्म है और यही सबसे बड़ा ऊर्जा स्रोत है।''

    - के.आर. कमलेश
    ''तनावमुक्त होना, यही जीवन की सबसे बड़ी पूर्णता है।''
    - सुरेश राठी
     
  • .

     ''दूसरों की अनुकूलताओं में अपनी अनुकूलता देखने वाले के लिए सब कुछ अनुकूल ही होता है।''

    - के.आर. कमलेश
    ''अधिकारों पर जोर देने के बजाय फर्ज अदा करें। आदमी काम से नहीं, काम की सोच से थकता है।''
    - सुरेश राठी
  • .

     ''कुछ जाना तो तब कहा जाता है जब किसी के साथ मतभेद न हो।ÓÓ

    - दादा भगवान
    ''सेवा उतनी ही आवश्यक है जितनी श्सन-क्रिया।''
    - सुरेश राठी
    इण पार कै उण पार
  • .

     ''मूर्ख को क्षमा करना इंसानियत है, धूर्त को क्षमा करना बेवकूफी है।''

    - पी.सी. वर्मा
    ''खुशी से सहन किया हुआ कष्ट, कष्ट नहीं होता।''
    - सुरेश राठी
  • .

    ''नाम और कीर्ति ये दो भूत अंत तक चिपके रहते हैं।''

    - दादा भगवान
    ''जिसका भाव अच्छा है, उसका भव भी अच्छा है।''
    - सुरेश राठी
Thoughts of the time
  •  It is the greatest of all mistakes to do nothing because you can only do a little. Do what you can.

    - Sydney Smith
  •  Among the safe courses, the safest of all is to doubt.

    -  Spanish Proverb
  •  

    Weary the path that does not challenge. Doube is an incentive to truth and patient inquiry leadeth the way.
     
    - Hosea Ballou
  • The mor uncertain I have felt about myself, the more there has grown up in me a feeling of kinship with all things. - Carl Jung

     

  •  

    Oh what men dare do! what men may do! what men daily do, not knowing what they do!
    - William Shakespeare
राजस्थानी कहावत
इण बात लारै धोबा-धोबा धूल
इस बात के पीछे धूल उछालौ
  • # जो बात धूल फेंकने के काबिल हो।
  • # जो बात अहितकारी हो, उसे तुरंत छोड़ देना चाहिये।
  • # जिस बात को समाप्त करना ही संगत हो।
-स्व. विजय दान देथा साभार : रूपायन संस्थान, बोरूं
  • इस वर्ष आज तक की तेल खपत
    बेरल में
    28,372,112,584
  • आज की तेल खपत
    बेरल में
    60,221,589
  • U.S. Debt Clock

    Total Debt
    $ 17,512,327,857,707

    Per Capita Debt
    $ 55,046.28
  • India Debt Clock

    Total Debt
    Rs. 56,906,352,988,497

    Per Capita Debt
    Rs. 45,855
  • भारत की ताजा जनसंख्या
    1,257,854,079

    दुनिया की ताजा जनसंख्या
    7,230,429,888
राष्ट्रीय शेयर बाजार सूचकांक
अंतरराष्ट्रीय बाज़ार सूचकांक
X
Login
X

Login

X

Click here to make payment and subscribe
X

Please subscribe to view this section.